रांची. कोरोना को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है. सरकार और प्रशासन पूरी तरह लॉकडाउन को सफल बनाने में लगी हुई है. इस बीच दुमका के एसपी कॉलेज की एक 16 साल की नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की सनसनीखेज मामला सामने आई है. सूत्रों के अनुसार 9 लड़कों ने उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है.

कहा जा रहा है कि पीड़िता नाबालिग गोपीकांदर पुलिस स्टेशन के जंगली इलाके की रहने वाली है. वह 24 मार्च को अपनी एक सहेली के साथ उसकी स्कूटी से अपने घर वापस लौट रही थी. दरअसल, वह जिस प्राइवेट हॉस्टल में रह रही थी वो लॉकडाउन की वजह से बंद हो गया था. इस कारण वो अपने दोस्त के साथ अपने घर लौट रही थी. पीड़ित लड़की को उसकी सहेली ने करुडीह मोड़ पर उतार दिया था और पाकुड़ में अपने घर के लिए निकल गई. उसके बाद पीड़िता ने अपने पिता को फोन किया और करुडीह से उसे ले जाने के लिए कहा. लेकिन जब काफी देर तक उसके पिता उसे लेने नहीं आ पाए तो उसने अपने एक दोस्त विकी हंसदा को उसे ले जाने के लिए फोन किया.

जिसके बाद विकी लड़की को लेकर उसके गांव के लिए निकल गया. विकी ने सड़क के बजाय जंगल का
रास्ता चुना तो उस लड़की ने इस बात का विरोध किया. इस पर विकी ने कहा कि अगर हम सड़क से
गए तो पुलिस हमें रोक लेगी. जंगल में वह गड़ियापानी के पास रुक गया. जब लड़की ने पूछा कि उसने
बाइक क्यों रोक दी तो उसने पेशाब करने का बहाना बना दिया.

फोन कर दोस्तों को बुलाया 

पीड़िता से उसने अपनी कुछ दूरी बनाकर अपने दोस्तों को बुलाया और फिर सब मिलकर कर पीड़िता के साथ गैंग रेप किया. इसके बाद वे सभी पीड़िता को जंगल में ही अकेले छोड़कर फरार हो गए. घटना के काफी देर बाद जब पीड़िता को होश आया था वह पास के गांव वालों की मदद से थाना पहुंचकर पूरे मामले की शिकायत की. पुलिस आरोपी को खोज रही है, लेकिन सभी फरार हैं.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here