फांसी की सजा देश में सबसे बड़ी होती है. ऐसे में जिस व्यक्ति का अपराध जघन्यतम अपराध की श्रेणी में आता हो, उसे ही ये सजा सुनाई जाती है. ये फैसला लिखने के बाद पेन की निब तोड़ दी जाती है.

दरअसल फांसी की सजा देश में सबसे बड़ी होती है. ऐसे में जिस व्यक्ति का अपराध जघन्यतम अपराध की श्रेणी में आता हो, उसे ही ये सजा सुनाई जाती है. इसलिए ऐसे किसी भी मामले में सजा सुनाने के बाद जज अपने पेन की निब को तोड़ देते हैं. इस उम्‍मीद में की दोबारा ऐसा अपराध न हो. वहीं इसके पीछे का तर्क ये भी है कि फांसी की सजा सुनाने के बाद पेन की निब इसलिए भी तोड़ी जाती है, क्योंकि जिस पेन ने अपराधी की मौत लिखी है वह किसी और काम के लिए इस्तेमाल नहीं की जा सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here