good morning

पटना. कोरोनकाल में राज्य की बिगड़ी स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर गुरुवार को कांग्रेस नेताओं ने सदाकत आश्रम में धरना देकर अपना विरोध व्यक्त किया.


कांग्रेस नेताओं का कहना था कि कोरोनकाल में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाइयों की किल्लत हो गई. जिसने बिहार के स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोलकर रख दिया. ऑक्सीजन और दवाइयों के अभाव में सैकड़ो लोगो की जान चली गयी. लेकिन, सरकार सिर्फ आंकड़ो का खेल खेलती रही और मौत के आंकड़ो को छुपाती रही है.


कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि कोरोनाकाल में राज्य के किसी भी सरकारी अस्पतालों में दवाइयां नही थी, ऑक्सीजन नही थी, राज्य के किसी भी अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीजो की दवा नहीं है. मरीजो को लाने ले जाने के लिये एम्बुलेंस नही है.

जबकि सीवान में सांसद एम्बुलेंस की चोरी में लगे रहे और सरकार सिर्फ देखती रही। इस कोरोनकाल मे सरकार की असंवेदनशीलता सामने आ गयी है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे और सरकार बुरी तरह से नाकाम रही है।
कांग्रेस ने प्रदेश के बुरी स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के इस्तीफे की मांग किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here