पटना। हाईकोर्ट के वरीय न्यायाधीश जस्टिस राकेश कुमार ने कहा कि अगर भ्रष्टाचार को उजागर करना अपराध है तो मैंने अपराध किया है .मैंने जो किया है उसके लिए मुझे कोई भी पछतावा नही है.मुझे जो सही लगा मैंने वही किया है.जस्टिस राकेश कुमार ने कहा कि मैंने अपने आदेश में जिन पर आरोप लगाया है उसी में से कुछ जज मुख्यन्यायाधीश के साथ बैठकर विशेष पीठ में सुनवाई कर रहे थे.

उन्होंने स्पस्ट कहा कि मैं आज भी अपने स्टैंड पर कायम हूँ और किसी भी स्थिति में भ्रष्टाचार से समझौता नही करूँगा. अगर मुख्य न्यायाधीश को लगता है कि वे मुझे न्यायिक कार्य से अलग रख कर खुश है तो मुझे कोई आपत्ति नही है. उन्होंने कहा कि मेरा किसी के प्रति कोई भी दुर्भावना नही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here