Patna.  झारखंड हाईकोर्ट से लालू प्रसाद को शुक्रवार को बड़ा झटका लगा है. उन्हें आज भी कोर्ट से बेल नहीं मिल पाया. अगली सुनवाई अब 9 अक्तूबर कोे होनी है. कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद बिहार में होने वाले विधान सभा चुनाव के बाद ही जेल से बाहर आ सकते हैं.

चारा घोटाले से संबंधित चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी के मामले में शुक्रवार को झारखंड हाई कोर्ट में सुनवाई होनी थी। लेकिन सीबीई वकील और लालू यादव की तबितयत खराब होने की वजह से सुनवाई टाल दिया गया है. अब यह सुनवाई 9 अक्टूबर को होगी. हाई कोर्ट में लालू यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई होनी थी.

जस्टिस अपरेस सिंह की अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली सुनवाई के लिए हाई कोर्ट के कॉज़ लिस्ट के नंबर सात पर मामला सूचीबद्ध था. दरअसल चाईबासा कोषागार से तकरीबन 37 करोड़ की अवैध निकासी के मामले में लालू यादव को 24 जनवरी 2018 को 5 साल की सजा सुनाई गई थी.

जेल में लालू यादव ने ढाई साल से ज्यादा का वक्त गुजार लिया है. इसी को आधार बनाते हुए लालू यादव के अधिवक्ता की तरफ से हाई कोर्ट में जमानत अर्जी दाखिल की गई है. गौरतलब है कि इस चुनावी साल में लालू यादव के जमानत पर बाहर आने की आस पार्टी ने लगा रखी है.

पार्टी नेताओं का मानना है कि लालू को अगर जमानत मिल जाती है को बिहार के चुनावी समीकरण को बदल सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here