युनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया लूट मामले में पटना पुलिस को छह माह बाद मिली सफलता,एक गिरफ्तार

0
128
WhatsApp Image 2020 06 30 at 19.49.38 - युनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया लूट मामले में पटना पुलिस को छह माह बाद मिली सफलता,एक गिरफ्तार

पटना. राजधानी पटना में साल के अन्तिम दिन हुए दिनदहाड़े बैंक लूट मामले में पटना पुलिस ने सोमवार की देर रात एक बड़ी सफलता मिली है.  गिरफ्तार अपराधियों को लेकर पटना पुलिस छापेमारी कर रही है।

बताते चलें कि एक नकाबपोश बदमाश अकेले ही युनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया में पहुंचा और रुमाल में लपेटी गई पिस्तौल या उसके जैसी कोई चीज दिखाकर महज चार मिनट में कैशियर से सवा नौ लाख रुपये बटोरकर पुलिस के सामने से फरार हो गया थे। घटना के समय बैंक में एक दर्जन ग्राहक और 12 बैंक कर्मी मौजूद थे। तीसरे काउंटर पर कैश जमा किया रहा था। इसी बीच नकाबपोश बदमाश अंदर दाखिल हुआ और काउंटर के सामने खड़ा हो गया। कपड़े से ढंकी पिस्तौल या पिस्टल जैसी कोई चीज को काउंटर के अंदर डालते हुए कैशियर को बोला- ‘शोर मचाओगे तो गोली मार देंगे। जो भी कैश काउंटर में रखा है उसे दे दो और कैंश काउंटर पर रखा नौ लाख बारह हजार रुपए एक बैग में आराम से चलते बने।

10 मिनट बाद हाथ में पिस्टल लेकर बैंक पहुंची थी पुलिस
जिस समय बदमाश बैग में कैश रख रहा था उसी समय एक ग्राहक ने मौका देख बैंक की सीढ़ी पर पहुंच गया। वहां से उसने 100 नंबर पर डायल कर बताया कि स्टेशन के पास बैंक में डकैत घुस गए और कैश लूट रहे है। इस सूचना मिलने के तत्काल बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। डायल 100 ने कोतवाली और वरीय अधिकारी को सूचना दी। कोतवाली एएसपी और कोतवाली थाने की सभी पुलिस बैंक की तरफ दौड़ते हुए पहुंचे थे। सूचना मिलने के 10 मिनट के अंदर पुलिस बैंक पहुंच गई थी। एएसपी और उनकी टीम हाथ में पिस्टल लिए सीधे बैंक में दाखिल हो गई थी। तब पुलिस को पता चला था कि डकैती नहीं हुई है बल्कि एक बदमाश कैश लूटकर फरार हो गया है।

छह माह बाद मिली पहली सफलता
पटना की तत्काल एसएसपी गरिमा मलिक ने इस घटना के तत्काल के बाद टास्क फोर्स का गठन किया गया था। लेकिन, टीम घटना के छह माह बाद यह पहली सफलता मिली है।

Leave a reply