अरुण कुमार पाण्डेय

पटना. बिहार विधानमंडल के मॉनसून सत्र की बैठकों से लगातार गायब विपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव के संबंध राबड़ी देवी ने कहा -खत्म हो गया। शुक्रवार को विधानमंडल के दोनों सदनों की बैठक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गयी। 28 जून से शुरु हुए इस सत्र की 21 बैठकों में सिर्फ दो ही दिन विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव की उपस्थिति खास रही ।

आय से अधिक सम्पत्ति मामले में सीबीआई,आयकर और इडी जांच और अलग-अलग मुकदमों में फंसे तेजस्वी बिहार से दो महीने से ओझल हैं। वे दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं । उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सदन की बैठकों में विपक्ष के नेता तेजस्वी के नहीं रहने पर तंज कसा। विधान परिषद में विपक्ष की नेता राबड़ी देवी से मीडिया प्रतिनिधि अक्सर पूछते रहे कि तेजस्वी कहा हैं तेजस्वी। सत्र के अंतिम दिन भी तेजस्वी को नहीं देख पूछने पर आजिज राबड़ी देवी ने छूटते ही कहा-खत्म हो गया।

इस सत्र में चमकी बुखार से सैकड़ों मासूमों की मौत को लेकर काम रोको प्रस्ताव स्वीकृत कर विशेष बहस हुई।स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय से इस्तीफा की मांग लेकर अक्सर रोज सदन के बाहर और अंदर विपक्ष हंगामा करता रहा। विधानसभाध्यक्ष विजय कुमार चौधरी और विधान परिषद के कार्यकारी सभापति हारुण रशीद ने सदन की बैठक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने की घोषणा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here