पटना. राजधानी पटना से सटे फतुहा फोर लेन पर हुए सेवानिवृत्त बैंककर्मी की हत्या मामले में पटना पुलिस ने बुधवार को शूटर सहित चार अपराधियों को गिरफ्तार कर किया है।

पकड़े गए अपराधियों में एक बैंककर्मी का दमाद भी है। उसने संपत्ति पर कब्जा के उदेश्य से उनकी हत्या कर दी थी। पुलिस ने अपराधियों के पास से हत्या के दौरान प्रयोग किए गए हथियार भी बरामद कर लिया है। बताते चलें कि सेवानिवृत्त बैंककर्मी शैलेंद्र कुमार की हत्या 5 जून को फतुहा फोरलेन पर की गई थी। हथियारबंद अपराधियों ने फोरलेन पर उनकी गोली मारकर हत्या करने के बाद अपनी मोटरसाइकिल से फरार हो गए थे। पुलिस ने जब इस मामले में घटना की जांच शुरु की तो कई अहम सुराग मिलते गए और पुलिस ने हत्या संलिप्त अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया।


दरअसल, रिटायर्ड बैंक कर्मी को रिटायरमेंट के बाद अच्छी खासी रकम मिली थी। उस रकम पर शैलेन्द्र के दामाद की नजर थी। उसने रिटायर्ड बैंककर्मी शैलेन्द्र को एक फर्जी जमीन दिखाकर 50 लाख रुपये ठग लिये। ससुर ने जब उससे जमीन के कागजात मांगे तो वह टाल-मटोल करने लगा। इसको लेकर मृतक बैंककर्मी ने पुलिस में शिकायत करने की बात जब किया तो उसने अपने ससुर की हत्या कर दी।


ग्रामीण एसपी ने बताया की रिटायर्ड बैंककर्मी शैलेंद्र कुमार की हत्या को पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए एसडीपीओ के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया था। जिसके बाद मामले में रामकृष्णा नगर से 4 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया । इन अपराधियों की पहचान पवन कुमार, पिंकू कुमार, अमर कुमार और विभा कुमारी के रूप में की गई। पकड़ा गया पवन कुमार रिटायर बैंककर्मी का दामाद है। जांच के दौरान पुलिस को दामाद की भूमिका संदिग्ध लगी। इसके बाद जांच आगे बढ़ते हुए पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा चंद दिनों में ही कर दिया।बता दें कि पकड़े गए अपराधियों के पास से बाइक, स्कूटी, एक देसी पिस्टल, एक जिंदा कारतूस और तीन मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं. पूछताछ में अपराधियों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here