पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने कही ये बड़ी बात…


पटना (Goodmorning news desk)
। बिहार में सत्तारुढ़ एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। बिहार विधानसभा चुनाव के समय से ही गठबंधन के दोनों बड़े दलों के बीच सीटों को लेकर शुरू हुई खींचतान अब अरुणाचल प्रदेश की घटना के बाद सतह पर आ गयी है। ताबड़तोड़ हो रहे राजनीतिक घटनाक्रमों के बीच जहां भाजपा व जदयू की बीच खींचतान जारी है वहीं विपक्ष भी इस मौके को अपने पक्ष में करने से नहीं चूकना चाहता।

वैसे तो राजद चुनाव के बाद से ही नीतीश कुमार पर हमलावर है लेकिन भाजपा के साथ नीतीश कुमार के मनमुटाव को देखते हुए अब राष्ट्रीय जनता दल ने नया पासा फेंका है। यह ऑफर दिया है पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और राजद के वरिष्ठ नेता उदय नारायण चौधरी ने। झारखंड की राजधानी रांची में श्री चौधरी ने कहा है कि नीतीश अगर तेजस्वी को समर्थन देकर बिहार का मुख्यमंत्री बना दें तो विपक्ष उन्हें 2024 में प्रधानमंत्री पद के लिए समर्थन दे सकता है।

गौरतलब है कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने पहले ही कह दिया है कि बिहार में मध्यावधि चुनाव होंगे। वहीं, कांग्रेस सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा है कि भाजपा की ओर से की जा रही फजीहत के बाद नीतीश कुमार को इस्तीफा दे देना चाहिए। वे पहले निर्णय लेते थे, अब नहीं ले पा रहे हैं। अरुणाचल में जदयू के 6 विधायकों को भाजपा ने खुद में शामिल करा लिया। इसके बाद भी वो कुछ नहीं कर रहे हैं, नीतीश कुमार की अंतरात्मा जागेगी तो खुद ही छोड़ेंगे। उधर छोड़ेंगे तभी इधर से कुछ बात बन सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here