patna.महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को धमकी देने वाले शातिर ठग को साहिबगंज पूलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. शातिर ठग केके सिंह को मुम्बई पुलिस को भी तलाश थी. मुम्बई पूलिस की निशानदेही पर साहिबगंज पूलिस ने आरोपी को पूर्णिया से गिरफ्तार किया है.

साहिबगंज एसपी अनुरंजन किस्सपोट्टा ने बताया कि शातिर ठग केके सिंह आईजी डीआईजी बनकर लोगों को डरा धमका कर पैसे ऐंठने का काम करता था.

शातिर ठग ने कई नामचीन हस्तियों को आय से अधिक संपति बताकर आईजी और डीआईजी बनकर ठगी की है.
चार शादियां रचा चुके शातिर ठग का घर साहिबगंज के बडहरवा प्रखंड में है. पुलिस की नौकरी छोड़ चुके कृष्ण कुमार सिंह उर्फ सिद्धनाथ सिंह ने कई जगहों पर घर भी बना रखा है. हाल ही में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को भी मोबाइल से धमकी देने के मामले में पूलिस को इसकी तलाश थी.

शातिर ठग ने बताया कि उसने सुशांत सिंह राजपूत मामले में महाराष्ट्र सरकार से सही जांच की मांग की थी. उसने कोई धमकी नहीं दी थी. उसने बताया कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में महाराष्ट्र सरकार से निष्पक्ष जांच की मांग की गई थी.कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस कर रही थी खोजबीन.

एसपी अनपुरंजन किस्सपोट्टा के अनुसार, आरोपी बडहरवा में भी पत्थर व्यावसाई कृष्ण साह को धमकी दे चुका है. इसके साथ ही पुलिस इसे कई अन्य मामलों में भी इसकी तलाश कर रही थी. महाराष्ट्र पुलिस की निशानदेही पर साहिबगंज पुलिस ने इसकी तलाश शुरू की थी. बडहरवा डीएसपी पीके मिश्रा के नेतृत्व में छापेमारी दल ने इसके लिए कई ठिकानों पर दबिश दी. कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस ने खोजबीन और पूर्णिया से उसे पकड़ा. एसपी के अनुसार आरोपी पूर्णिया में भी शादी कर फ्लैट में परिवार के साथ रहता था. मुख्य रूप से यूपी के बलिया का रहने वाला केके सिंह अपने दूसरे नाम सिद्धनाथ सिंह के नाम से भी जाना जाता है.

आधार कार्ड में कई अलग-अलग नामों की भी पुलिस तलाश कर रही है. पुलिस ने मोबाइल के साथ उसे गिरफ्तार किया है. वह कई तरह के संगठन से भी जुड़ा है. मछली पालन और गौ पालन के भी व्यावसाय से जुड़ा है. शातिर ठग के करणी सेना से संबंध बताए जा रहे है. हालांकि उसने इस सभी आरोपों से पूरी तरह से इंकार कर दिया है. महज बीए पास इस शातिर ठग को पुलिस ने फिलहाल गिरफ्तार कर लिया है. मामले की जांच की जा रही है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here