विराट कोहली का बड़ा खुलासा, टीम में चयन के लिए पिता से मांगे गए थे पैसे!

0
266
995c64b9 48ab 4ffe 9a3a de991cc07fad - विराट कोहली का बड़ा खुलासा, टीम में चयन के लिए पिता से मांगे गए थे पैसे!

पटना: हाल ही में भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री के साथ भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली ने इंस्टाग्राम पर लाइव बातचीत की, इस दौरान दोनों दिग्गजों ने अपने शुरूआती दिनों को याद किया. इसी क्रम में विराट ने एक बड़ा खुलासा किया. कोहली ने इंस्टाग्राम लाइव में कहा कि एक समय घरेलू टीम में चयन के लिए उनके पिता से पैसे मांगे गए थे. कोहली ने इस बारे में आगे कहा कि उस दौरान मैं काफी अच्छा खेल रहा था. सभी को उम्मीद थी कि मैं जल्द ही स्टेट टीम में शामिल हो सकता हूं. उसी समय स्टेट टीम की ओर से किसी शख्स ने मेरे पिता से बात की और कहा कि आपका बेटा अच्छा खेल रहा है लेकिन यदि आप अपने बेटे को जल्दी स्टेट टीम में देखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ अलग करना होगा. मेरे पिता उस शख्स के इशारे को समझ गए थे. वह शख्स मेरे टीम में चयन को लेकर पैसे मांग रहा था. लेकिन मेरे पिता मेहनत करके वकील बने थे, उन्हें ऐसी भाषा पसंद नहीं थी. इसलिए मेरे पिता ने उस शख्स की नहीं सुनी. कोहली ने कहा कि मेरे पिता ने कहा कि मेरा बेटा अपने दम पर स्टेट टीम में शामिल होगा. और मैं पैसे देकर उसका चयन टीम में नहीं करा सकता हूं. उस समय मेरा चयन दिल्ली की टीम में नहीं हुआ था जिसके बाद मुझे काफी निराशा हुई. लेकिन आज मैं यह बात सोचता हूं तो मुझे अपने पिता पर गर्व होता है.

आपको बता दें कि साल 2006 में कोहली के पिता की मौत हो गई थी. जिस वक्त कोहली के पिता की मौत हुई थी उस दौरान वो रणजी ट्रॉफी खेल रहे थे. कर्नाटक के खिलाफ मैच के दौरान रात में उन्हें फोन आया था कि उनके पिता अब इस दुनिया में नहीं रहे. जब कोहली को ये बात पता चली थी वो दिल्ली के लिए नॉट आउट बल्लेबाजी कर रहे थे. दिल्ली को वह मैच बचाने के लिए कोहली का अगले दिन बल्लेबाजी करना बेहद ही जरूरी था.

ऐसे में कोहली ने अपने कर्तव्य का पालन किया और पहले दिल्ली के लिए बल्लेबाजी की. उस मैच में कोहली ने 281 मिनट और 238 गेंद का सामना करते हुए 90 रन बनाए थे. कोहली के इस ऐतिहासिक पारी के दम पर दिल्ली वह मैच बचाने में सफल हो गई थी. अपनी बल्लेबाजी कर कोहली अपने पिता की अंतिम यात्रा में शामिल हुए थे.

कोहली ने सुनील छेत्री से इंस्टाग्राम लाइव में आगे बात-चित के दौरान अपने फिटनेस को लेकर खुद में आयी परिवर्तन के बारे में कहा कि वह इसका श्रेय अपने आप को नहीं देंगे. कोहली ने कहा, ‘‘यह (फिटनेस और प्रशिक्षण) मेरे लिए सब कुछ है, मैं इसका श्रेय खुद नहीं लूंगा. मेरे करियर को अगले स्तर तक ले जाने का श्रेय ‘शंकर बासु’ को जाता है.’

virathhgc - विराट कोहली का बड़ा खुलासा, टीम में चयन के लिए पिता से मांगे गए थे पैसे!

विराट कोहली ने शंकर बासु के बारे में आगे बताया की ‘शंकर बासु आरसीबी (रॉयल चैलेंजर बेंगलौर) में एक प्रशिक्षक थे, उन्होंने मुझे वजन उठाने के लिए कहा। मैं थोड़ा हिचकिचा रहा था क्योंकि मुझे पीठ दर्द की शिकायत थी। यह मेरे लिए बिल्कुल नया था। लेकिन मुझे तीन हफ्तों के भीतर जो परिणाम मिला वह चकित करने वाला था।’

मौजूदा क्रिकेटरों में सबसे फिट खिलाड़ियों में माने जाने वाले कोहली ने कहा, ‘इसके बाद उन्होंने मेरे आहार पर काम किया, मैंने ध्यान देना शुरू किया कि मेरे शरीर के साथ क्या हो रहा है। जब मुझे अहसास हुआ कि मेरी शारीरिक बनावट के कारण मुझे अपने शरीर पर दो या तीन बार काम करना पड़ेगा। मैं वही कर रहा हूं, जो मेरे करियर के लिए जरूरी है।’

प्रशिक्षण और अभ्यास के समय के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘जब तक मैं खेल खेल रहा हूं तब तक पूरे जुनून के साथ इसे जारी रखूंगा। अगर आप देश के लिए खेल रहे हैं, तो आपको कड़ी मेहनत करनी होगी, अगर आप ऐसा नहीं कर सकते, तो आपको खेल से दूर जाना चाहिए।’

Leave a reply